kahi ankahi

Just another weblog

66 Posts

4144 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 5476 postid : 761703

ट्रेन चली छुक छुक छुक छुक

Posted On: 7 Jul, 2014 Others में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

इस वक्त भारत , रेलवे इतिहास में दिन प्रतिदिन एक नया अध्याय स्वर्ण अक्षरों में लिख रहा है ! आइये विश्व के चौथे सबसे बड़े इस नेटवर्क के विषय में और भी नयी पुरानी बातें जानते हैं ! शायद ही कोई ऐसा व्यक्ति हो जिसने कभी न कभी ट्रेन से यात्रा न करी हो , ऐसे में और भी जरुरी हो जाता है कि हम अपनी रेल के बारे में और भी अधिक जानें !


1 . भारत में अभी तक सबसे तेज चलने वाली ट्रेन: भारत में अभी तक सबसे तेज चलने वाली ट्रेन नयी दिल्ली – भोपाल शताब्दी एक्सप्रेस है । पूरी तरह से वातानुकूलित ये सुपरफास्ट ट्रेन फरीदाबाद -आगरा सेक्शन में 150 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ़्तार से दौड़ती है और पूरी यात्रा में लगभग 90 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ़्तार बनाये रखती है और 704 किलोमीटर की दूरी 7 घंटे 50 मिनट में पूरी करती है !


2. भारत में सबसे सुस्त ट्रेन : मेतुपलयम ऊटी नीलगिरि पैसेंजर ट्रेन को भारत की सबसे कम गति से चलने वाली ट्रेन का तमगा मिला हुआ है , ये सवारी गाडी मात्र 10 किलोमीटर प्रति घंटे की गति से रेंगती है , ये रफ़्तार भारत की सबसे तेज रफ़्तार गाडी से 10 गुना कम है ! इसी क्रम में प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी के गृह राज्य गुजरात में वड़ोदरा में प्रताप नगर – जम्बूसर पैसेंजर ट्रेन आती है जिसकी अधिकतम गति 12 किमी / घण्टा है और 11 किमी / घंटा की औसत गति से 44 किलोमीटर की दूरी तय करने में पूरे 4 घंटे लगाती है !


रेलवे क्रॉसिंग पर मशक्कतः

इस धीमी ट्रेन के साथ एक और खास बात है। जब कोई क्रॉसिंग आती है, तो ट्रेन का सहायक ड्रायवर खुद उतरकर गेट बंद करता है और जब ट्रेन गेट से आगे निकल जाती है, तो वह वापस आकर गेट खोलता भी है, ताकि ट्रैफिक शुरू हो सके। गेट खोलने के बाद वह वापस इंजन में आता है और ट्रेन को आगे बढ़ाता है।


3. डिब्रूगढ़ से कन्याकुमारी तक चलने वाली विवेक एक्सप्रेस भारत में सर्वाधिक लम्बी दूरी तय करने वाली और सर्वाधिक समय लेने वाली ट्रेन है ! ये अपने पूरे सफर में 4273 किलोमीटर की दूरी तय करती है !


4. और नागपुर से अजनी तक चलने वाली ट्रेन केवल 3 किलोमीटर की दूरी तय करती है , इसलिए इसे भारत की सबसे कम दूरी तय करने वाली ट्रेन में शामिल किया जा सकता है ! असल में ये ट्रेन केवल रेलवे कर्मचारियों को नागपुर से अजनी स्थित वर्कशॉप तक लाने ले जाने के लिए है !


5 .सबसे लम्बी नॉन स्टॉप यात्रा : त्रिवेन्द्रम -हज़रत निज़ामुद्दीन राजधानी एक्सप्रेस बिना रुके वड़ोदरा से लेकर कोटा तक की 528 किलोमीटर की यात्रा कराती है । इसी क्रम में दूसरे स्थान पर मुंबई – दिल्ली राजधानी एक्सप्रेस आती है जो नयी दिल्ली और कोटा के बीच बिना रुके चलती है !


6. सबसे लम्बा स्टेशन का नाम : चेन्नई के पास अराकोणम – रेणिगुंटा सैक्शन पर पड़ने वाला स्टेशन ” वेंकट नरसिम्हाराजुवारिपेटा ” है !

7. सबसे छोटा स्टेशन नाम : इस लिस्ट में दो नाम आते हैं , 1 . पहला ओडिशा के झारसुगुड़ा के पास ईब और 2 . गुजरात के आनंद में पड़ने वाला ओद !


8. सबसे ज्यादा स्टॉप्स वाली ट्रेन : हावड़ा से अमृतसर के बीच चलने वाली ये ट्रेन 115 जगहों पर रूकती है और इसके बाद नंबर आता है दिल्ली -हावड़ा जनता एक्सप्रेस का , जो 109 जगह रूकती है और फिर जम्मू तवी -सिआलदह एक्सप्रेस , जो 99 जगह रूकती है !


9. सबसे खराब ट्रेन : गुवाहाटी – त्रिवेन्द्रम एक्सप्रैस का समय से कुछ लेना देना नहीं है ! ये ट्रेन 65 घंटे और 5 मिनट के निर्धारित समय से हमेशा 10 -12 घंटे लेट होती है !


10. एक ही लोकेशन पर दो स्टेशन : महाराष्ट्र के अहमद नगर जिले में श्रीरामपुर और बेलापुर अलग अलग दिशाओं में पड़ने वाले एक ही लोकेशन पर स्थित दो स्टेशन हैं !



11. सबसे शक्तिशाली लोकोमोटिव : WAG-9 भारतीय रेलवे के इंजन बड़े में सर्वाधिक शक्तिशाली लोकोमोटिव है ! 6530 हॉर्स पावर वाला ये महारथी गोमोह , अजनी , लालगुड़ा , तुगलकाबाद और भिलाई में अपना बेस बनाये हुए है ! इसके बाद नंबर आता है WAP – 7 का !


12.चारों दिशाओं के अंतिम स्टेशन : उत्तर दिशा का आखिरी स्टेशन जम्मू कश्मीर में बारामुला है , पश्चिम का आखिरी स्टेशन गुजरात के भुज में स्थित नलिया , दक्षिण का आखिरी स्टेशन कन्याकुमारी जबकि पूर्व का आखिरी स्टेशन तिनसुकिया ब्रान्च लाइन पर पड़ने वाला लेडो है !


13. सबसे ज्यादा ट्रेन चलाने वाला जंक्शन : उत्तर प्रदेश की धार्मिक नगरी मथुरा जंक्शन से 7 रूट पर गाड़ियां निकलती हैं ! आगरा कैंट के लिए ब्रॉड गेज लाइन , भरतपुर के लिए ब्रॉड गेज लाइन , अलवर के लिए ब्रॉड गेज लाइन , अछनेरा के लिए मीटर गेज लाइन , वृन्दावन के लिए मीटर गेज लाइन , हाथरस -कासगंज के लिए मीटर गेज लाइन ( अब ये ब्रॉड गेज में बदल गयी है ) ! इसके बाद नंबर आता है 6 सोर्सेज के साथ भटिंडा , पांच रूट के साथ लखनऊ , गुण्टाकल , कटनी , वाराणसी , कानपूर , विल्लुपुरम , दभोई और नागपुर का !



14. सबसे ज्यादा पैरेलल ट्रैक्स : मुंबई में बान्द्रा टर्मिनस और अँधेरी के बीच 10 किलोमीटर में सात पैरेलल ट्रैक हैं जबकि सिल्लीगुड़ी स्टेशन पर तीन अलग अलग तरह के गेज मौजूद हैं !


15. सबसे व्यस्त स्टेशन : लखनऊ , जिस पर प्रतिदिन 64 गाड़ियां गुजरती हैं !


16. सबसे लम्बा प्लेटफार्म : विश्व का सबसे लंबा प्लेटफार्म पश्चिम बंगाल के खड़गपुर में है जिसकी लम्बाई 1072 . 5 मीटर है !

17. सबसे पुराना लोकोमोटिव : भारत ने अब तक भी अपने सबसे पुराने लोकोमोटिव को ऑपरेशन में रखा हुआ है ! सन 1855 ईस्वी में निर्मित फेयरी क्वीन इंजन को , जिसे गिनीज़ बुक ऑफ़ रिकार्ड्स में शामिल किया गया है , अभी तक चलायमान रखा गया है !

18 . कर्मचारियों की संख्या : भारतीय रेलवे 14 लाख कर्मचारियों के साथ भारत का सबसे बड़ा और दुनिया का नौंवा सबसे बड़ा नियोक्ता है !


19. . रेलवे नेटवर्क : भारत 64 ,000 किलोमीटर की रेलरोड के साथ अमेरिका , रूस और चीन के बाद चौथे स्थान पर विराजमान है !


20 भाप के इंजन : भारत में भाप के इंजिनों का उत्पादब सन 1972 से बंद कर दिया गया है !


21 . तय की जाने वाली दूरी : भारतीय रेलवे की 14 , 300 ट्रेन प्रतिदिन इतनी दूरी तय करती हैं कि अगर वो चाँद पर जाने लगें तो प्रतिदिन पृथ्वी से चाँद तक के साढ़े तीन चक्कर लगाएंगी !


22 . शौचालय : भारतीय रेल में पहली बार प्रथम श्रेणी में 1891 में और अन्य श्रेणियों में 1907 में शौचालय की सुविधा प्रदान करी गयी !


23 . एयर कूलिंग : भारतीय रेल में सन 1874 ईस्वी में ग्रेट इंडियन पेनिन्सुलर रेलवे की प्रथम श्रेणी में उपलब्ध कराई गयी !


24 . सबसे लम्बी सुरंग : जम्मू कश्मीर की पीर पंजाल रेलवे सुरंग , जिसकी लम्बाई 11. 215 किलोमीटर है , दिसंबर 2012 में तैयार हुई है ! इससे पहले कोंकण रेलवे पर पड़ने वाली कार्बुदे सुरंग , जिसकी लम्बाई 6.5 किलोमीटर है , उसे सबसे लम्बी सुरंग का दर्ज़ा प्राप्त था !


25 . भूमिगत ट्रेन : भारत की पहली भूमिगत ट्रेन कोलकाता में चलाई गयी थी !


26 . कंप्यूटराइज्ड आरक्षण : सबसे पहले 1986 में नयी दिल्ली में कंप्यूटराइज्ड रिजर्वेशन की गयी !

27 . विधुत चलित ट्रेन : तीन फरबरी 1925 को बॉम्बे वीटी और कुर्ला स्टेशनों के बीच पहली विधुत ट्रेन दौड़ाई गयी थी !

28 . गणतंत्र दिवस के दिन 1982 में शुरू की गयी ट्रेन पैलेस ओन व्हील्स में कुछ समय तक भारतीयों को नहीं घुसने दिया जाता था !


29. सबसे दर्दनाक हादसा : बिहार में 6 जून 1981 को हुई रेल दुर्घटना को भारतीय रेल इतिहास में सबसे भयंकर और दर्दनाक हादसा कहा जा सकता है ! इस दिन करीब 800 यात्रियों को ले जा रही पैसेंजर ट्रैन मानसी और सहरसा के बीच बागमती नदी के पल पर पटरी से उत्तर गयी जिससे ज्यादातर लोग नदी की तेज धार में गबाह गए और एक अनुमान के अनुसार 500 से लेकर 800 लोगों की जान चली गयी ! 200 शवों को ही ढूँढा जा सका था ! ये भारतीय रेलवे के इतिहास में सबसे बड़ा हादसा माना जाता है !


30 . ट्रेनों की कुल संख्या : भारतीय रेलवे की लगभग 19,000 ट्रैन प्रतिदिन पटरियों पर दौड़ती हैं जिनमें से करीब 12000 यात्री ट्रेन हैं जबकि 7000 मालगाड़ी हैं जो माल धुलाई के लिए प्रयोग में लाइ जाती हैं !

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (3 votes, average: 3.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

37 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

sadguruji के द्वारा
December 31, 2014

आदरणीय योगीजी ! हार्दिक अभिनन्दन ! आपको और आपके समस्त परिवार को नव वर्ष की बहुत बहुत बधाई ! नए साल में भी आपकी लेखनी अनवरत चलती रहे !

    Florence के द्वारा
    October 17, 2016

    AMAZING! Thats woednrful. Does the coffee grounds really break up the compost that much? Its like a compost activator of some sort? Thanks very much for the tip!

surendra shukla bhramar5 के द्वारा
August 30, 2014

सारगर्भित …ज्ञान वर्धक पोस्ट …ट्रेन चली अब रफ़्तार पकडे सुरक्षित ले चले बस …. जय श्री राधे भ्रमर ५

    yogi sarswat के द्वारा
    September 25, 2014

    बहुत बहुत आभार आपका आदरणीय श्री भ्रमर साब ! संवाद बनाये रखियेगा , धन्यवाद

harirawat के द्वारा
August 21, 2014

योगी जी आप नाम के साथ साथ कर्म योगी भी हो ! इतनी सारी जानकारियां हासिल कर के जनता तक पहुचाना, कोई हंसी खेल नहीं है ! बहुत सारी बधाइयां और शुभ कामनाएं ! आप मेरे ब्लॉग पर आए, सकारात्मक टिपणी के लिए धन्यवाद ! हरेन्द्र

    yogi sarswat के द्वारा
    September 25, 2014

    बहुत बहुत आभार आपका आदरणीय श्री रावत जी ! आशीर्वाद बनाये रखियेगा , धन्यवाद

sanjay kumar garg के द्वारा
July 16, 2014

योगी जी, सादर नमन! रेलवे के बारे में ढेर सारी जानकारियाँ देने के लिए आभार!

    yogi sarswat के द्वारा
    July 22, 2014

    धन्यवाद आपका श्री संजय जी !

sadguruji के द्वारा
July 11, 2014

आदरणीय योगी जी ! हार्दिक अभिनन्दन ! रेलवे से संबंधित मेरे सामान्य ज्ञान में आपने कुछ और वृद्धि कर दी है ! बहुत सी रोचक जानकारियां आप ने दी हैं ! उनमे से कई मुझे नई लगीं ! मुझे सबसे ज्यादा इस बात की ख़ुशी है कि इस मंच पर अब आप शीघ्र लेख पोस्ट कर रहे हैं ! इस नविन और सामान्य ज्ञान की दृष्टि से उत्कृष्ट लेख के लिए बहुत बहुत बधाई !

    yogi sarswat के द्वारा
    July 22, 2014

    बहुत बहुत आभार आपका श्री सद्गुरु जी ! संवाद बनाये रखियेगा ! धन्यवाद

anilkumar के द्वारा
July 10, 2014

आदरणीय योगी जी , आप ने तो रेलों का पूरा इनसाईक्लोपीडिया ही प्रस्तुत कर दिया ।  बहुत उपयोगी और ज्ञानवर्धक लेख । बहुत बहुत आभार ।

    yogi sarswat के द्वारा
    July 11, 2014

    बहुत बहुत आभार आदरणीय श्री अनिल कुमार जी ! आपके द्वारा दिए गए सम्मान का हार्दिक अभिनन्दन ! संवाद बनाये रखियेगा

deepak pande के द्वारा
July 10, 2014

AADARNIYA YOGI JEE BADI GAHAN AUR VISTRIT JAANKAARI PRANTU KSHMA CHAAHUNGA KHADAGPUR AB BHARAT KA SABSE LAMBA STATION NAHEE RAHA AB GORAKHPUR BHARAT KA SABSE LAMBA STATION HAI

    yogi sarswat के द्वारा
    July 10, 2014

    बहुत बहुत आभार आपका श्री दीपक पाण्डे जी ! ओह ! सच कहूँ तो दीपक जी ये आंकड़े नेट से इकट्ठे किये हैं और आपके लिए प्रस्तुत कर दिए हैं , वहां कहीं ऐसा नहीं आया की खड़गपुर अब सबसे लम्बा प्लेटफार्म नहीं रहा , लेकिन किसी और ने भी मुझे इस बारे में सूचित किया था तो मुझे लग रहा है , आपकी बात में दम है ! अवश्य बदलाव करूँगा दीपक जी , लेकिन पहले ज़रा कन्फर्म होलूं ! अत्यंत आभारी हूँ आपका , मेरे शब्दों तक आने और उन्हें समय देने के लिए !

    jlsingh के द्वारा
    July 11, 2014

    आदरणीय योगी जी, सादर अभिवादन! श्री दीपक पाण्डेय सही कह रहे हैं. 1.324 किलोमीटर लम्बाई के साथ अब गोरखपुर ही सबसे बड़ा रेलवे प्लेटफार्म है. यह नेट पर उपलब्ध है. वैसे आपने बहुत उत्तम जानकारियों के साथ रेल के बारे में विस्तृत ज्ञान दिया है. आपके श्रम को नमस्कार!

    yogi sarswat के द्वारा
    July 22, 2014

    जी , आदरणीय श्री जवाहर सिंह जी ! मैंने देखा नेट पर ! अब गोरखपुर ही सबसे बड़ा प्लेटफार्म हो गया है ! इसे अपडेट करूँगा ! आपका और दीपक पाण्डेय जी का बहुत बहुत आभार ! मेरा भी ज्ञानवर्धन हुआ ! धन्यवाद

Sushma Gupta के द्वारा
July 10, 2014

”ट्रेनों की कुल संख्या : भारतीय रेलवे की लगभग 19,000 ट्रैन प्रतिदिन पटरियों पर दौड़ती हैं जिनमें से करीब 12000 यात्री ट्रेन हैं जबकि 7000 मालगाड़ी हैं ” योगी जी भारतीय रेल की इतनी बिस्तृत जानकारी तो रेलविभाग को ही हो सकती है, आपने इसपर बहुत ही श्रमपूर्वक अपना शोधकार्य किया एवं महत्वपूर्ण जानकारी दी ,,,आपको हार्दिक वधाई..

    yogi sarswat के द्वारा
    July 10, 2014

    आभार आपका आदरणीय सुषमा जी ! ब्लॉग पर आते रहिएगा , धन्यवाद !

Nirmala Singh Gaur के द्वारा
July 10, 2014

एक प्लेटफोर्म पर रेलवे की इतनी दुर्लभ एवं ज्ञानवर्धक जानकारी देने के लिए आपका हार्दिक आभार चि.सारस्वत जी .

    yogi sarswat के द्वारा
    July 10, 2014

    आभार आपका आदरणीय निर्मला सिंह गौर जी , मेरे शब्द आपतक पहुंचे और आपका समर्थन और सहयोग लेकर लौटे ! संवाद बनाये रखियेगा , धन्यवाद

Shobha के द्वारा
July 9, 2014

सारस्वत जी आपने रेलों के विषय में इतनी मेहनत से सब कुछ लिखा है कुछ भी नहीं छोड़ा बहूत ही बढ़िया सार्थक लेख नोलिजियेब्ल लेख कितनी प्रशंसा करूं कम है ऐसे ही आप लिखते रहें लेख क्या है पूरा रेल ज्ञान का पिटारा शोभा

    yogi sarswat के द्वारा
    July 10, 2014

    बहुत बहुत आभार आपका आदरणीय शोभा जी ! मेरे शब्दों का आपने मान दिया ! आशीर्वाद बनाये रखियेगा , धन्यवाद

amarsin के द्वारा
July 8, 2014

बहुत ज्ञानवर्धक लेख… पड़कर बहुत अच्छा लगा.

    yogi sarswat के द्वारा
    July 10, 2014

    धन्यवाद आपका मित्रवर अमर सिन जी ! संवाद बनाये रखियेगा

pkdubey के द्वारा
July 8, 2014

बहुत ज्ञानवर्धक लेख भाई .सादर बधाई.

    yogi sarswat के द्वारा
    July 10, 2014

    धन्यवाद श्री दुबे जी ! संवाद बनाये रखियेगा

ranjanagupta के द्वारा
July 7, 2014

आदरनीय योगीजी !बहुत बधाई !बहुत अधिक जाना रेल के विषय में आपकेलेख द्वारा !इतना प्रमाणित लेख लिखने हेतु बहुत बहुत आभार !!

    yogi sarswat के द्वारा
    July 10, 2014

    आभार आपका भी आदरणीय रंजना जी , आपने मेरे शब्दों को मान दिया ! आशा है आगे भी आपके प्रोत्साहित करते शब्दों से अपने ब्लॉग को शोभायमान कर सकूंगा ! धन्यवाद

nishamittal के द्वारा
July 7, 2014

उपयोगी जानकारी से परिपूर्ण संग्रहनीय पोस्ट

    yogi sarswat के द्वारा
    July 10, 2014

    बहुत बहुत आभार आदरणीय निशा जी मित्तल ! आशीर्वाद बनाये रखियेगा और मुझे ही नहीं मंच के और भी लोगों पर अपने आशीर्वाद और मार्गनिर्देशन का हाथ बनाये रखियेगा ! अनेक अनेक धन्यवाद

    Mccayde के द्वारा
    October 17, 2016

    Hey Tim,Our thoughts are with you and your team. It’s people like you who make us proud to be Australian. My husband has MS and know far too well how hard life can beoemAwnse.e work guys


topic of the week



latest from jagran